Keep learning…

Sometimes it goes well
Sometimes it hurts
Sometimes it’s good
Sometimes it’s bad
Life changes as a whim
What always stays
Is what we keep learning
And that’s the only path that brings growth
So let’s always be in the learning mode.

भक्ति

दुःखी आशा से ईश्वर में भक्ति रखता है, सुखी भय से ।

दुःखी पर जितना ही अधिक दुःख पड़े, उसकी भक्ति बढ़ती जाती है ।

सुखी पर दुःख पड़ता है, तो वह विद्रोह करने लगता है ।

वह ईश्वर को भी अपने धन के आगे झुकाना चाहता है ।

आदत की तृष्णा…

आदत की तृष्णा पूरी करने में जितना कम समय लगे,
उतनी ही वो आदत दृढ़ होती जाती है।
इसलिए बुरी आदत की तृष्णा को जितना कठिन कर सके,
उतनी ही वो आदत दूर होती जाती है।